Payment Gateway in Hindi | पेमेंट गेटवे क्या है, जानिए पूरी जानकारी

By | July 10, 2021

आज इस Tech Karya हिन्दी पोस्ट मे, हम Payment Gateway के बारे मे बात करने वाले है, जिसमे जानेंगे की, पेमेंट गेटवे क्या है (What is Payment Gateway in Hindi), पेमेंट गेटवे के प्रकार क्या है, पेमेंट गेटवे कैसे काम करता है, भारत के मुख्य पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर कंपनिया कौन-सी है? आज इसके बारे मे विस्तृतरूप से जानकारी देंगे इसलिए इस पोस्ट को शुरू से आखिर तक ज़रुर पढ़े। तो चलिए आज इस ब्लॉग में विस्ताररूप से जानते है कि, Payment Gateway Kya Hota Hai?

वर्तमान में, भारत जैसे-जैसे डिजिटल हो रहा है वैसे ही हमे विभिन्न तरह की ऑनलाइन सुविधाएं मिल रही हैं और इनमे एक ऑनलाइन ट्रांजक्शन के लिए मुख्य सुविधा Payment Gateway हैं। यदि आप ऑनलाइन शॉपिंग, बिजली, पानी या मोबाइल के बिल आदि का ऑनलाइन पेमेंट करते हैं तो पेमेन्ट गेटवे का इस्तेमाल आपने जरूर किया होगा। Payment Gateway के माध्यम से आप सुरक्षित और आसानी से पैसे किसी को ट्रांसफर कर सकते हैं या फिर पैसे ले सकते हैं।

what is payment gateway in hindi

जब भी आप किसी भी ऑनलाइन वेबसाइट पर जाकर पेमेंट करते हैं तो आप पेमेंट गेटवे पर ही जाकर डेबिट या क्रेडिट कार्ड का इन्फॉर्मेशन (जैसे- कार्ड नंबर, एक्सपीरी डेट, सीवीवी) आदि डालना पड़ता हैं। वर्तमान समय मे जैसे-जैसे ऑनलाइन खरीदारी व भुगतान की मांग बढ़ रही है, वैसे ही कैशलेस अर्थव्यवस्था की ओर लगभग सभी व्यवसायों ने ऑनलाइन भुगतान Accept करना शुरू कर दिया हैं। तो चलिये अब इस ब्लॉग में सबसे पहले जानते है कि Payment Gateway Kya Hai.

पेमेंट गेटवे क्या है (What is Payment Gateway in Hindi)

Payment gateway meaning in hindi : पेमेंट गेटवे का मतलब है, ई-कॉमर्स बिज़नेस में कस्टमर या व्यापारी द्वारा पेमेंट करने या पेमेंट प्राप्त करने का एक साधन है। पेमेंट गेटवे एक ऐसी टेक्नोलॉजी है जिसका इस्तेमाल व्यापारी कस्टमर से डेबिट या क्रेडिट कार्ड से खरीदारी का भुगतान प्राप्त करने के लिए करते है। पेमेंट गेटवे तकनीक कस्टमर कार्ड की जानकारी को कलेक्ट करता है और बाद में इसे प्रोसेसिंग के लिए एन्क्रिप्ट करता हैं।

वर्तमान समय मे खरीदी बिक्री का काम ऑनलाइन चल रहा है ऐसे में व्यापार भी अब ऑनलाइन हो गए हैं, आज के दौर में लेनदेन के लिए सॉफ्टवेयर का उपयोग किया जाता है। बदलते दौर में Payment Gateway के माध्यम से ऑनलाइन खुदरा विक्रेताओं, स्टोर व ई-कॉमर्स कंपनी आदि के लिए क्रेडिट कार्ड व डेबिट कार्ड से भुगतान की सुविधा मिलता है, पेमेंट गेटवे ट्रांजक्शन डाटा हिस्ट्री को एन्क्रिप्ट करके सुरक्षित रखता हैं जिससे किसी तरह का ऑनलाइन धोखाधड़ी न हो, साथ ही यह प्रक्रिया होती हैं कि ग्राहक व व्यापारी के मध्य निजी जानकारियो को पूरी तरह से कॉन्फिडेंशियल रखा जाता है व निजी डेटा पूर्ण रूप से सुरक्षित होता हैं।

पेमेंट गेटवे एक ई-कॉमर्स सॉफ्टवेयर एप्पलीकेशन है, जिसके माध्यम से ऑनलाइन लेनदेन होता है, इससे व्यापारियो, ई-व्यवसायी व इलेक्ट्रॉनिक व्यवसाय आदि के लिए पेमेंट अधिकृत करता है। पेमेंट गेटवे ग्राहक व व्यापारी के मध्य काम करता हैं, यह तीसरा पक्ष होता है जो ग्राहक से पैसे लेकर सीधे व्यापारी के खाते में ट्रांसफर करता हैं।

यदि आप अपना समान ऑनलाइन बेचते है व आपके पास वेबसाइट है जिसके माध्यम से समान बेंच रहे हैं तब आप ऑनलाइन या फिर मोबाइल फोन के माध्यम से भुगतान क्रेडिट कार्ड से स्वीकार करना चाहते है तब यह ग्राहक व व्यापारी के मध्य ब्रिज का काम करता हैं।

पेमेंट गेटवे के प्रकार (Types of Payment Gateway in Hindi)

आमतौर पर Payment Gateway कई प्रकार के होते हैं जिनका आप अपने जरूरत अनुसार उपयोग कर सकते हैं। इनमे से कुछ लोकप्रिय होस्टेड, सेल्फ-होस्टेड, एपीआई-होस्टेड और लोकल बैंक इंटीग्रेशन भुगतान गेटवे हैं। किसी भी एक पेमेन्ट गेटवे को इस्तेमाल करने से पहले उसके फ़ायदे तथा नुकसान के बारे में जान लेना चाहिए क्योंकि हर एक प्रकार का भुगतान गेटवे एक दूसरे से अलग होता हैं।

Hosted Payment Gateways

होस्टेड भुगतान गेटवे में कस्टमर को मर्चेन्ट वेबसाइट के पेज को छोड़कर पेमेंट गेटवे एप्लीकेशन पर ले जाता है। यह पेमेंट पेज एक पेमेंट सर्विस प्रोवाइडर (PSP) द्वारा होस्ट किया जाता है। यहां पर पेमेन्ट गेटवे Third Party के रूप में कार्य करता हैं क्योंकि कस्टमर को पूरा भुगतान करने के लिए मर्चेंट की वेबसाइट को छोड़कर Payment Gateway पेज पर जाना पड़ता है।

जब कस्टमर पेमेन्ट करने के लिए दिए गए Gateway लिंक पर क्लिक करता हैं, तो उसे पेमेंट सर्विस प्रोवाइडर (PSP) पेज पर Redirect कर देता है। इसके बाद कस्टमर वहां पर अपना पेमेंट इन्फॉर्मेशन भरकर भुगतान करता है और भुगतान करने के बाद वापस वेबसाइट पर भेज दिया जाता है। होस्टेड पेमेंट गेटवे का सबसे प्रसिद्ध और अधिक उपयोग किया जाने वाला उदाहरण Paypal हैं और इसके अलावा GTpay, CCAvenue, EcoBank इत्यादि हैं। यह भुगतान गेटवे स्थापित व इस्तेमाल करने में आसान हैं। आजकल अधिकांश ऑनलाइन पेमेंट सर्विस प्रोवाइडर, पेमेंट कार्ड इंडस्ट्री (PCI) के अनुरूप होते हैं जो आमतौर पर कस्टमर्स को धोखाधड़ी से सुरक्षा प्रदान करते हैं।

Self-Hosted Payment Gateway

सेल्फ होस्टेड पेमेंट गेटवे इंटीग्रेशन में, मर्चेन्ट की वेबसाइट पेज को छोड़े बिना कस्टमर से ऑनलाइन भुगतान स्वीकार करता है। इसमें कस्टमर किसी बाहरी Gateway पेज की ओर निर्देशित न होकर बल्कि मर्चेन्ट की वेबसाइट पर ही भुगतान करता है। सेल्फ होस्टेड भुगतान गेटवे में, ई-कॉमर्स वेबसाइट के अंदर ही कस्टमर से पेमेंट इन्फॉर्मेशन की जानकारी को इकट्ठा करता हैं, लेकिन कार्डधारक डाटा की इन्फॉर्मेशन को सुरक्षा उपायों के नजरिये से अधिक जिम्मेदारियों से संभालकर रखना पड़ता हैं।

इस प्रकार का भुगतान गेटवे कस्टमर की दृष्टिकोण से अच्छा है क्योंकि पूरी लेनदेन प्रक्रिया एक पेज पर पूरी हो जाती हैं। इसमे भुगतान गेटवे कैसा दिखता हैं और किस तरह कार्य करता है इस पर व्यापारी का पेज पर अधिक नियंत्रण रहता है। QuickBooks और Shopify सेल्फ या स्व-होस्ट किए गए भुगतान गेटवे का उदाहरण हैं तथा ये दोनों स्ट्राइप द्वारा संचालित होते हैं।

API or Non-Hosted Payment Gateways

सेल्फ होस्टेड भुगतान गेटवे की तरह, एपीआई-होस्टेड भुगतान गेटवे कस्टमर्स को अपना क्रेडिट या डेबिट कार्ड पेमेंट इन्फॉर्मेशन सीधा मर्चेन्ट की चेकआउट वेबसाइट पेज पर ही भरने की अनुमति देता हैं लेकिन इसके साथ ये एप्लीकेशन प्रोग्रामिंग इंटरफेस (API) या HTTPS Queries का इस्तेमाल करके ऑनलाइन भुगतान प्रोसेस करता है। मर्चेन्ट को पेमेंट प्रोसेसिंग का यूज़र इंटरफेस (UI) पर पूरा नियंत्रण होता हैं क्योंकि इसमे कोई वेबपेज का पुनर्निर्देशन (Redirect) शामिल नहीं होता हैं।

नॉन-होस्टेड भुगतान गेटवे इंटीग्रेशन कस्टमर्स को एक पेज पर ही का पूरा पेमेंट चेकआउट करने का अच्छा अनुभव देता है। यह टैबलेट सहित मोबाइल, लैपटॉप जैसे अन्य उपकरणों पर उपयोग करने के लिए सक्षम है। PayU, Stripe, BrainTree और Adyen नॉन-होस्टेड भुगतान गेटवे के कुछ उदाहरण हैं।

Local Bank Integration Gateway

लोकल बैंक इंटीग्रेशन गेटवे में कस्टमर को बैंक की Payment Gateway की वेबसाइट पर निर्देशित किया जाता है, जहां वे अपनी भुगतान और संपर्क जानकारी को भरते हैं। पेज Redirection पर भेजे गए भुगतान नोटिफिकेशन डाटा के साथ, भुगतान करने के बाद कस्टमर्स को मर्चेन्ट की वेबसाइट पर वापस भेज दिया जाता हैं।

यह छोटे व्यवसायों के लिए अच्छा है जिन्हें आसानी से One-time पेमेंट सिस्टम की आवश्यकता होती हैं। Local Bank Gateway की अच्छी बात यह हैं कि ये कस्टमर्स को न सिर्फ प्रोडक्ट या सेवाओं के लिए उनके बैंक खाते के क्रेडिट कार्ड से भुगतान करने की अनुमति देता हैं, बल्कि Transactions प्रकिया पूरा करने का एक बहुत ही आसान सरल और जल्द तरीका भी प्रोवाइड करता हैं।

पेमेंट गेटवे कैसे बनाये (How to Make Payment Gateway in Hindi)

यदि आप यह सोच रहे है कि अपने वेबसाइट के माध्यम से पैसे क्रेडिट कार्ड में भेजना हैं तब आपको अपने वेबसाइट के लिए पेमेंट गेटवे बनाना की आवश्यकता होगा, इसके लिए सर्वप्रथम आपको Payment Gateway प्रोवाइड करने वाले कंपनी के बारे में पता करना होगा जैसे- PayPal, CC Avenue, Citrus Pay व PayUmoney आदि पेमेन्ट गेटवे प्रोवाइड करता है, आप इनमें से किसी भी वेबसाइट का चुनाव कर सकते है। इसके लिए आपको स्टार्टअप के पैसे से लेकर ट्रांसकैशन के पैसे तक का ध्यान रखना होगा, उस हिसाब से आप Payment Gateway एप्पलीकेशन चुनें।

इसके बाद आपको पेमेन्ट गेटवे वेबसाइट में आपको अपना एकाउंट बनाना होगा, इसके लिए आपके पास जरूरी दस्तावेज होना चाहिए, आपको फॉर्म भरना होगा साथ ही आपको अपनी निजी जानकारी भरना होता है, फ़ोटोसिग्नेचर स्कैन करके अपलोड करना होता है, फिर आपको अपना बैंक डिटेल्स भी देना होगा, जैसे ही आप सभी जानकारी सही-सही भरते है फिर आपका Payment Gateway वेबसाइट में एकाउंट बन जाता हैं, इसके बाद आप अपने वेबसाइट में पेमेंट गेटवे का लिंक कॉपी करके अपने वेबसाइट में ऐड करके लगा सकते हैं।

जब भी कोई यूजर आपके वेबसाइट में आता है व कुछ प्रोडक्ट खरीदता है व ऑनलाइन भुगतान करता है तब पैसे आपके बैंक एकाउंट में Payment Gateway के माध्यम से आ जायेगा, इस तरह से पेमेन्ट गेटवे आप आसानी से बना सकते है व ऑनलाइन ट्रांजक्शन पैसे अपने वेबसाइट में सीधे प्राप्त कर सकते हैं।

पेमेंट गेटवे कैसे काम करते है (How Payment Gateway Works in Hindi)

How Payment Gateway Works in Hindi

यदि आप तुरन्त पैसे ट्रांसफर करना चाहते है व आपके पास बैंक डिटेल्स है, साथ ही आपके पास किसी तरह का कार्ड वर्तमान में हैं व आप Payment Gateway उपयोग करते है तब आपका बैंक डिटेल्स उसमें पहले से सेव होता हैं, कोई भी यूजर सीधे भुगतान गेटवे के माध्यम से पेमेंट कर सकता है व वहपैसे सीधे आपके खाते में आयेगा, उसके लिए निम्न स्टेप को ध्यान में रखना होता हैं।

• जब भी कोई यूजर वेबसाइट में आता है व कुछ खरीदता है या फिर देखता है तब उसे पेमेंट करना होगा ऐसे में वह Pay Now पर क्लिक करता हैं उसके बाद पेमेंट गेटवे एक्टिव हो जाता है, जब प्रोडक्ट वेबसाइट में शो होता है उसकेे साथ Pay Now भी शो करता हैं।

• इसके बाद पेमेंट गेटवे यूजर के बैंक डिटेल्स की जानकारी लेता है व प्रोसेस को सम्बंधित बैंक के सर्वर से कनेक्ट करता हैं व बैंक सर्वर यूजर कार्ड को रीड करने में सहायता करता हैं साथ ही सम्पूर्ण जानकारी का वेरिफिकेशन करता है व सही होने पर आगे का प्रोसेस होता हैं।

• यूजर की जानकारी जैसे ही वेरीफाई होता है बैंक मर्चेंट एकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर देता है व पेमेंट सक्सेसफुल का स्टेटस यूजर को वेबसाइट में दिखाई देता हैं, जब भी कोई भी यूजर पेमेन्ट गेटवे के माध्यम से किसी भी वेबसाइट में पेमेंट करता हैं तो पेमेन्ट गेटवे यूजर के बैंक डिटेल्स को स्टोर नही करता है इससे यूजर की बैंक एकाउंट पूर्ण रूप से सुरक्षित होता है। इस तरह से Payment Gateway कार्य करता हैं।

मुख्य पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइडर

वर्तमान समय भारत मे कई कंपनी पेमेंट गेटवे सर्विस प्रोवाइड करती हैं जो पूरी तरह से सुरक्षित होती है, भुगतान गेटवे सर्विस प्रोवाइडर की कुछ कंपनियां निम्न प्रकार हैं-

1. CC Avenue

यह भारत की सबसे पुरानी पेमेन्ट गेटवे प्रोवाइडर में से एक हैं इसकी शुरुआत 2001 में हुआ था। वर्तमान में इसका उपयोग दुनिया के बड़े-बड़े E-commerce कंपनी के मर्चेंट कर रहे है, इसका ट्रांसक्शन फीस 1.99% +3 rs से 2.99% + 3 rs हैं, इसमें आप 0 रुपये लगाकर स्टार्टअप कर सकते है, साथ ही वर्तमान समय मे इसका उपयोग MakeMyTrip, Myntra, Redbus व Air Asia आदि कर रहे हैं।

2. Citrus Pay

Citrus Pay भी सबसे बेहतरीन पेमेन्ट गेटवे में से एक हैं, इसकी शुरुआत 2011 में हुई थी, ये बहुत कम समय में 800 मिलियन से भी अधिक यूज़र इस पेमेन्ट गेटवे का अब तक बन गए है। इसमें भी आप Startup 0 से कर सकते हैं व आपको Transaction Fess 1.99%+ 3rs लगेगा। इसका उपयोग वर्तमान समय मे Airtel व PVR Cinema आदि जैंसे और भी बहुत से बड़ी कंपनियां कर रही हैं।

3. PayUMoney

PayUmoney भारत की सबसे पुरानी व विश्वनीय पेमेन्ट गेटवे वेबसाइट में से एक है, इसका उपयोग बहुत सारी Website वर्तमान में कर रहा हैं, इसका उपयोग टॉप कंपनी जैंसे Jabong, Bookmyshow, Freecharge, OLX, OLA व Shopclues आदि भी इसका उपयोग कर रहे हैं ताकि यूजर फ्रेंडली रहे व यूज़र्स को किसी तरह का समस्या न हो इस बात का ध्यान रखा जाता हैं।

4. Instamojo

Instamojo भारत की पेमेन्ट गेटवे कंपनी है। भारत मे बहुत सारे ऑनलाइन बिज़नेस करने वाले इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। यह एक पेमेंट गेटवे प्रोवाइडर वेबसाइट है इसका उपयोग ईबुक, इमेज या फिर डॉक्युमेंट्स को अपने वेबसाइट के माध्यम से सेल कर रहे हैं तब भुगतान के लिए इसका उपयोग कर सकते है। इसके जरिए ट्रांजक्शन करने का कोई शुल्क नही लगता हैं।

5. PayPal

PayPal दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन पेमेंट सर्विस प्लेटफॉर्म हैं, जो व्यक्तिगत और बिज़नेस को कम लागत में सेवा प्रदान करती हैं। इसके जरिए आसानी से Payment दूसरे को सुरक्षित भेज सकते हैं और प्राप्त कर सकते है। ये पूरी दुनिया मे उपयोग की जाने वाली सबसे प्रसिद्ध कंपनी है। यह लगभग सभी इंटरनेशनल डेबिट और क्रेडिट कार्ड को सपोर्ट करता हैं।

किस प्रकार का पेमेंट गेटवे चुनना चाहिए?

प्रत्येक प्रकार के भुगतान गेटवे के अपने-अपने फायदे और नुकसान हैं। आप अपने बिज़नेस मॉडल के आधार पर किसी एक भुगतान गेटवे को चुन सकते हैं। आपको किस प्रकार के भुगतान गेटवे की सुविधाओं की आवश्यकता हैं और आप अपने ग्राहकों के भुगतान अनुभव पर कितना नियंत्रण करना चाहते हैं। आजकल सेल्फ-होस्टेड भुगतान गेटवे ऑनलाइन कंपनियों और थोक विक्रेताओं के लिए उपयोग करने का सबसे अच्छा प्लेटफार्म हैं, क्योंकि यह ग्राहक को एक ही वेबपेज पर सुरक्षित Transaction प्रक्रिया पूरा करने की अनुमति देता हैं और व्यापारी को ग्राहक अनुभव पर नियंत्रण रखता हैं।

संक्षेप में:

तो दोस्तों आपने इस पोस्ट के माध्यम से जाना की, Payment Gateway क्या है (What is Payment Gateway in Hindi) तथा इसके साथ भुगतान गेटवे के प्रकार, पेमेंट गेटवे कैसे काम करते है, भारत की कुछ प्रमुख पेमेंट गेटवे कंपनीया के विषय मे जानकारी दी हैं। उम्मीद हैं मेरे द्वारा दी गयी जानकारी Payment Gateway Kya Hota Hai आपके लिए ज्ञानवर्धक व उपयोगी साबित होगी। आपको ये पोस्ट कैसा लगा नीचे कमेंट बॉक्स मे जरूर बतायें। यदि पोस्ट ज्ञानवर्धक लगा हो तो ज्यादा से ज्यादा अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें ताकि उन सभी को भी ये जानकारी पहुच सकें, धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published.