What is Search Engine in Hindi | सर्च इंजन क्या है व इसके प्रकार क्या है?

By | November 1, 2020

आज इंटरनेट के नये ज़माने में हम अपने किसी भी सवालो का जवाब पाने को अपने मोबाइल या कंप्यूटर की मदद से गूगल पर सर्च करते है। आज भी आपने गूगल सर्च इंजन पर कुछ न कुछ सर्च किया होगा जैसे कि इस सर्च इंजन टॉपिक के बारे में की, Search Engine Kya Hai? Google भी एक प्रकार का search engine है, जो सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाता हैं। तो आज हम इसी तरह के search engine के बारे में बात करने वाले है कि, सर्च इंजन क्या होता है (What is Search Engine in Hindi) और यह काम कैसे करता है?

search engine kya hai hindi

आज लोग web search engine का इस्तेमाल अपनी हर छोटी या बड़ी समस्याओं के सवालों का जवाब पाने के लिए सबसे पहले Google पर ढूंढते हैं। अब वो दौर चला गया जब हमे अपने कई सवालों के उत्तर जानने के लिए किसी किताब या अपने शिक्षकों और बुजुर्गों से पूछना पड़ता था। पर आज ये अब ज़माना digital हो गया है लोग अपने सवालों के जवाब चंद कुछ सेकंडों में गूगल पर ढूंढ लेते हैं।

उदाहरण के तौर पर, जैसे ऑनलाइन मूवीज देखना हो, ऑनलाइन शॉपिंग करनी हो,अपने आसपास कोई रेस्टोरेंट ढूंढना हो, किसी स्थान के बीच की दूरी जाननी हो या कोई भी चीज की जानकारी चाहिए तो internet पर हमे ये सब जानकारियां आसानी से मिल जाती है।

कभी आपने भी सोचा होगा कि गूगल सर्च इंजन हमे इतने जल्दी specific results कैसे दिखा देता है। जब भी कोई keywords गूगल में सर्च करते है तो वह उस keywords या टॉपिक से related ही बहुत सारे रिजल्ट दिखाता है। सिर्फ एक गूगल सर्च इंजन ऐसा नही है इसके अलावा और भी कई सर्च इंजन है। जैसे- Yahoo, Bing, Ask और Yandex आदि है। लेकिन लोग सबसे ज्यादा google सर्च इंजन का प्रयोग करते हैं।

सर्च इंजन क्या है (What is Search Engine in Hindi)

सर्च इंजन एक तरह का प्रोग्राम है, जो इंटरनेट पर मौजुद ultimated database से Users के सभी सवालो और सूचनाओ को सर्च करता है। आपके द्वारा सर्च की गई जानकारी को सर्च इंजन कोई खास keywords या key phrase की मदद से search करता है और उसके बाद इन्ही keyword से रिलेटेड result की सूचियों को प्रदर्शित करता है। जिन्हें ही “Search Engine Result Pages (SERPs)” कहते हैं। आपके द्वारा सर्च की गई जो जानकारी Google दिखाता है वो सभी जानकारियों के world wide web में सर्च किया जाता है।

Internet के द्वारा जो भी सर्च किया जाता है, उसे बिल्कुल सही और सटीक जवाब दिखाने का काम सर्च इंजन रहता है। Google की तरह बहुत से सर्च इंजन है, जो सटीक रिजल्ट दिखाने का काम करते हैं जैसे- Yahoo, Bing, DuckDuckGo इत्यादि। यदि आपको कोई भी समस्या आती है, तो आप तुरंत Google पर सर्च करते हैं और गूगल सर्च इंजन आपके द्वारा सर्च की गई सवालों को अलग-अलग प्रकार से दिखाता है, जैसे image, videos, text documents इत्यादि।

आपके द्वारा सर्च किए गए सवालो के आधार पर सबसे अच्छी और सटिक जानकारी आपके स्क्रीन पर प्रस्तुत कि जाती है और यही क्रम लगातार जारी रहता है। यहां आप जो भी सवाल search करते है, उनके लगभग अनगिनत रिजल्ट search engine प्रस्तुत करते हैं

सर्च इंजन काम कैसे करता है (How Search Engine Works in Hindi)

सर्च इंजन के काम करने कि प्रक्रिया थोड़ी मुश्किल है और एक आम व्यक्ति को इसकी प्रक्रिया को समझना और भी कठिन काम है। लेकिन फिर भी हम आपको यहां सर्च इंजन काम कैसे करता है, इसकी जानकारी देने कि कोशिश ज़रुर करेंगे। ताकि आप लोगो को भी सर्च इंजन के सर्च करने के तरीकों की थोड़ी बहुत जानकारी प्राप्त हो सके।

इंटरनेट पर जितने भी सर्च इंजन मौजूद हैं, उनमें सर्च करने के लिए अधिकतर दो तरीके अपनाए जाते हैं। जब भी आप इंटरनेट के माध्यम से किसी भी चीज की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो मुख्यता इन तरीकों का प्रयोग किया जाता है।

Keywords

Search engine के द्वारा हम जो भी सर्च करना चाहते हैं, उसके लिए Keywords की आवश्यकता जरूर होती है। यानी कि जिस चीज की हमें इंटरनेट पर तलाश होती है, उसके लिए खास शब्दों यानी कि Keywords को सर्च इंजन में डालते हैं, जिसके बाद Keywords और Key Phrase से संबंधित सर्च इंजन अपने डेटाबेस को Crawl करता है और स्क्रीन पर website की सूची दिखाता है। जो आपके Keywords से मैच करती है। प्रत्येक साइट पर पूरी जानकारी वेब पेज या फोटो और वीडियोस के द्वारा दर्शाती है। सर्च इंजन मैं सर्च करने के बाद जो भी साइट top 10 rank की सूची में होते हैं, उनमें सर्च किया गया Keywords Phrase से अधिक होने की संभावना होती है

Crawling

Crawling का अर्थ होता है खोजना यानी कि keywords डालकर search engine के द्वारा search करने पर एक website के सारे डेटा को एकत्रित करके वेबसाइट के पूरे जानकारी को दर्शाने का काम होता है। इसके अंतर्गत वेबसाइट को Scan करना पेज का Title तथा Content में कितने Keywords है उन सब की जानकारी इकट्ठा करता है। Crawl एक स्वयं चालित Boot होते हैं। जो सर्च इंजन द्वारा सभी पुराने और नए page और websites को सर्च करता है। गूगल के अनुसार Crawl लगभग एक सेकंड में 100 से 1000 पेजेस को visit कर सकता है।

Indexing

Indexing एक विधि है जहां Crawl के माध्यम से जो भी डाटा प्राप्त होती है, उन सभी डेटा को जैसे कि आप का Assingment, इसके हर एक पेज को पढ़ना और और जानकारी एकत्रित करना “Crawling” कहलाता है। लेकिन इन सभी डिटेल्स यानी कि आपके असाइनमेंट में क्या और कितना लिखा गया है। उसे एक सूची में डालना Indexing कहलाता है। सर्च इंजन केवल वेबसाइट को Crawl ही नहीं करता बल्कि विश्वभर में जितने भी वेबसाइट हैं उनको Crawling के साथ-साथ Indexing भी करता है।

Ranking

यह सर्च इंजन का आखिरी कदम है। लेकिन यह समझने में थोड़ा ज्यादा जटिल है, क्योंकि आप जब गूगल पर कुछ सर्च करते हैं, तो आप चाहते हैं कि गूगल आपको सटीक इंफॉर्मेशन प्रदान करें। इसीलिए सर्च इंजन आपके इस भरोसे को कायम रखने के लिए Users के Relative Content को ढूंढ निकालता है। जिसके लिए गूगल कुछ एल्गोरिथ्म का प्रयोग करती है।
एल्गोरिथ्म कुछ पैरामीटर के हिसाब से काम करती है।जैसे कि Content keyword, Content Page Title आदि को दर्शाती है। यदि बात करें रैंकिंग की तो आप अपने पोस्ट में कितने Keywords इस्तेमाल किए हैं और backlinks कितनी कि है इन सब के मदद से ही साइट को रैंक दिया जाता है। हर साल गूगल अपने एल्गोरिथ्म को बदलता रहता है, क्योंकि गूगल अधिकतर उन लोगो को मौका देना चाहता है, जो अपने वेबसाइट को रैंक करने मे पूरी मेहनत कर रहे हैं।

प्रमुख सर्च इंजन के नाम (Top Search Engine List in Hindi)

#Google

गूगल को तो सब कोई जानते ही हैं, क्योंकि यह सबसे ज्यादा फेमस सर्च इंजन है। गूगल का इस्तेमाल यूजर बहुत ज्यादा करते हैं। इसे 1997 में दुनिया भर में लॉन्च किया गया था जिसे, दो दोस्तों Larry Page और Sergey Brin द्वारा बनाया गया। गूगल आज लोगों की सबसे पहली पसंद बन गई है।

#Bing

Bing गूगल के बाद या दूसरा सबसे बड़ा और प्रसिद्ध सर्च इंजन है, जिसे 2009 में माइक्रोसॉफ्ट कंपनी द्वारा बनाया गया था। यह सर्च इंजन Microsoft के वेब ब्राउज़र में by default होता है।

#Yahoo

Yahoo को दुनिया के तीसरे सर्च इंजन के नाम में जाना जाता है। Yahoo को 1995 में लांच किया गया था। लेकिन, गूगल के आने के बाद इसकी लोकप्रियता तीसरे स्थान पर पहुंच गई है

#Dogpile

यह एक Metasearch इंजन है। Dogpile को भी 1995 में लांच किया गया था। यह अपने परिणाम दूसरे सर्च इंजन कैसे Google और Yahoo से सूचनाएं लेकर प्रदर्शित करता है।

#Baidu

Baidu सर्च इंजन चीन में सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाता हैं और इसकी शुरुआत जनवरी, 2000 में Eric Xu द्वारा किया गया था। यह सर्च इंजन वेबसाइटों, ऑडियो फाइलों, चित्रों के परिणाम के साथ यह कुछ अन्य सेवाएं जैसे मैप, समाचार, क्लाउड स्टोरेज और अन्य सेवाएं शामिल हैं।

#Ask.com

Ask.com सर्च इंजन की खोज 1995 में हुई थी है, जो किसी question और answer के आधार पर रिजल्ट देता है। यह एक question और answer का समुदाय है जहा पर बड़ी मात्रा में डेटा स्टोर रहता है और आप अपने प्रश्नों के उत्तर प्राप्त कर सकते है।

#DuckDuckGo

DuckDuckGo भी एक लोकप्रिय सर्च इंजन है जो यूज़र्स की गोपनीयता को सुरक्षित रखने के लिए जाना जाता है। इसकी शुरुआत 2008 में गेब्रियल वेनबर्ग द्वारा कैलिफोर्निया में कई गयी थी।

सर्च इंजन का इतिहास (Search Engine History in Hindi)

Internet की आविष्कार के साथ यह पहला उदाहरण था जिसे आज सभी लोग जानते है। लेकिन यह कोई google, yahoo, bing यहां तक की Ask Jeeves सर्च इंजन भी नहीं था, बल्कि सबसे पहला सर्च इंजन आर्ची (Archie) introduce हुआ था।

Archie सबसे पहला सर्च इंजन था जिसे 1990 में Montreal शहर में स्थित McGill University के छात्र Alan Emtage द्वारा बनाया गया था। इसका original नाम “Archives” था लेकिन इसे बाद में Archie कर दिया गया था।

यह सर्च इंजन उपयोगकर्ता को सार्वजनिक रूप से उप्लब्ध फ़ाइलों को सर्च करने और डाउनलोड करने की अनुमति देता था और जितना संभव हो सकता था ये सार्वजनिक FTP सर्वर पर सभी files list को indexed किया गया था।

यह सर्च इंजन प्राइमिटिव डायरेक्टरी लिस्टिंग के लिए इस्तेमाल होता रहा जब तक कि कोई नया सर्च इंजन जो वेबसाइट को crawling और indexing के लिए विकसित नही किया गया। इसलिए सर्च relevancy को optimize करने के लिए algorithms का निर्माण किया गया।

सर्च इंजन का उपयोग (Uses of Search Engine in Hindi)

सर्च इंजन का प्रयोग तो हम हमेशा ही करते हैं। लेकिन, आप लोगो को पता है, कि सर्च इंजन का उपयोग अखिर क्या है, नही पता तो चलिए हम बता देते हैं, की सर्च इंजन का उपयोग अखिर है क्या।

Shopping

लोगों को शॉपिंग करने के लिए आए दिन इंटरनेट पर ऐसी ऐसी चीजें सर्च करते हैं, जैसे Best Offer, Free Shipping, Best Price इत्यादि। वैसे तो आजकल amazon, Snapdeal जैसे शॉपिंग वेबसाइट के अंदर सर्च करने के लिए भी बहुत ही आसान फीचर्स होते हैं। लेकिन फिर भी लोग से संतुष्ट नहीं होते और वह गूगल या अन्य सर्च इंजन के द्वारा इसे सर्च करते हैं

Research

आए दिन लोगों को projects या कोई जरूरी चीज या जानकारी हासिल करनी होती है। तो लोग सर्च इंजन का प्रयोग करते हैं।वे लोग ऐसे वेबसाइट की तलाश में होते हैं, जहां उन्हें सारी जानकारी प्राप्त हो सके। सर्च इंजन अधिकतर शॉपिंग वेबसाइट की तुलना सर्च वेबसाइट को ज्यादा महत्व देते हैं और सिर्फ इसी वजह से जब भी आप इंटरनेट पर किसी भी चीज की जानकारी तलाश करते हैं, तो सबसे ऊपर विकीपीडिया का Option दिखाई देता है।

Entertainment

आज इंटरनेट के जमाने मे लोग मनोरंजन के लिए किसी भी सर्च इंजन का उपयोग करते हैं। क्योंकि अधिकतर लोग अब के समय में ऑनलाइन videos देखने, movies देखने, games खेलने इत्यादि का इस्तेमाल करते है। सोशल मीडिया पर जैसे, youtube, whatsapp, facebook या instagram आदि पर मनोरंजन के लिए या किसी काम से लोग घंटो समय बिता देते हैं। इसलिए मनोरंजन के उद्देश्य से search engine का अधिक इस्तेमाल किया जाता हैं।

निष्कर्ष:

तो उम्मीद करता हु की आपको ये पोस्ट, सर्च इंजन क्या है (What is Search Engine in Hindi) टॉपिक के बारे मे जानने को मिला होगा। मेरी पूरी यही कोशिश रहती है की किसी भी टॉपिक के बारे मे पूरी जानकारी शेयर करू। अगर इस पोस्ट Search Engine Kya Hai से संबन्धित कोई सवाल या सुझाव हो तो हमे comment करके जरूर बताए। यदि आपको पोस्ट अच्छी लगी हो तो दूसरों तक share करें, धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published.